समाज

ग्रामीण भारत की बदलती नारी

हार्पर कॉलिंस द्वारा प्रकाशित "सरपंच साहिब ‍ चेंजिंग द फेस आफ इंडिया" की समीक्षा।

बीते 20 सालों में कुछ ग्रामीण औरतों ने घर के दायरे से बाहर निकल, पंचायती राजनीति में कदम रख ग्रामीण भारत को बदलने की कोशिश की है। उन्हीं की कथायें है “सरपंच साहिब” में। पढ़िये डॉ सुनील दीपक की समीक्षा।

Dec 28th 2009, 3

भाषा पर इतिहास का बोझ ना डालें

February 24, 2009 | 4 Comments

image अँग्रेज़ी में लिखने वाली बंगलौर निवासी लोकप्रिय भारतीय उपन्यासकार व लेखिका अनीता नायर से डॉ सुनील दीपक की बातचीत लेख पढ़ें »
बातचीत से अन्य आलेख »

फेसबुक और एमएस आफिस बने दोस्त

November 25, 2010 | 4 Comments

image डॉक्स.कॉम एमएस ऑफ़िस सूट 2010 के तहत उपलब्ध ऑफ़िस लाइव वेब एप्स की तरह ही है, मगर इसे बेहद लोकप्रिय सामाजिक नेटवर्क साइट फ़ेसबुक से जोड़ने के लिहाज से डिजाइन किया गया है। लेख पढ़ें »
अंतर्जाल से अन्य आलेख »

ओपनऑफ़िस एनाफ्रेसियज़ से करें तेज़, उन्नत अनुवाद

October 19, 2009 | 4 Comments

image रवि रतलामी बता रहे हैं अनुवाद कार्यों में अनुवादकों की सहायता करने वाले ओपनऑफ़िस.ऑर्ग ऑफ़िस सूट के इस उम्दा प्लगिन का उपयोग का सरल तरीका। लेख पढ़ें »
प्रौद्योगिकी से अन्य आलेख »

आस्था की जैविकी

February 22, 2009 | 1 Comment

image आध्यात्मिकता का आपकी सेहत पर असर, अजनबी के साथ भोजन की अजीब शर्त, इंटरनेट व अखबार युक्त आटो रिक्शा, और...भी बहुत कुछ। हुसैन की इतवारी कड़ियाँ बतायें इंटरनेट के हाल चाल। लेख पढ़ें »
कड़ी की झड़ी से अन्य आलेख »

social RSS Feed Samayiki at Twitter Facebook page of Samayiki Google

भारत में आधुनिक समुद्र विज्ञान के जनक

May 1, 2016 | 5 Comments

image 1960 के दशक के अन्तर्राष्ट्रीय हिन्द महासागर अभियान के दौरान की गईं खोजों और उनसे प्राप्त परिणामों ने भूवैज्ञानिक सिद्धांतों और संकल्पनाओं में क्रांति ला दी और देश में समुद्रविज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान की नींव रखी। लेख पढ़ें »
विज्ञान से अन्य आलेख »

और फिर, वे मुझे मारने आए

January 31, 2009 | 3 Comments

image श्रीलंका जैसे संघर्षरत देश में सच बोलने के खतरे जानते हुये भी कुछ पत्रकार अन्तरात्मा की पुकार पर कलम थामे हुये हैं। प्रस्तुत लेख द संडे लीडर के दिवंगत संपादक का अंतिम संपादकीय है जिसे उन्होंने अपनी हत्या किये जाने पर प्रकाशित करने का निर्देश दिया था। लेख पढ़ें »
राजनीति से अन्य आलेख »

बालिका वधु: नाटक द्वारा सच का सामना

September 9, 2009 | 1 Comment

image कुछ नेताओं की सोच के विपरीत संजय रानाडे मानते हैं कि यह दुर्लभ धारावाहिक बाल विवाह को "बढ़ावा" नहीं बल्कि मनोरंजन द्वारा दर्शकों को सामाजिक संघर्ष का बौद्धिक रूप से सामना करने की प्रेरणा दे रहा है। लेख पढ़ें »
समाज से अन्य आलेख »

क्यों स्लमडॉग मिलियनेयर मुझे प्रभावित न कर सकी?

February 3, 2009 | 6 Comments

image गंदी बस्ती के एक लड़के की रंक से राजा बनने के कथा पर बनी डैनी बॉयल की फिल्म हिट बन चुकी है। सौतिक बिस्वास सवाल उठा रहे हैं कि क्या सचमुच ये फिल्म एक ''मास्टरपीस'' है, जैसा कि इसे बताया जा रहा है। लेख पढ़ें »
सिनेमा से अन्य आलेख »

साबुनी रंगभूमि का रियैलिटी सम्मोहन

March 7, 2009 | 1 Comment

image दक्षिणी मुंबई की आलीशान इमारतों के बीच बसे इस साबुनी घाट में वो सारे तत्व हैं जो इस शहर को महानगर बनाते हैं। लेख पढ़ें »
चित्र कथ्य से अन्य आलेख »