Next page

हुसैन

हुसैन
चग्स के नाम से जाने जाने वाले हुसैन बंगलौर स्थित एक जानेमाने और प्रतिभाशाली वेब डिज़ाईनर है। उनके द्वारा डिज़ाइन किये जालस्थलों में इंडीब्लॉगीज़ और देसीपंडित शामिल हैं। चग्स की संडे मार्निंग लिंक्स काफी लोकप्रिय हैं और निरंतर पत्रिका के शुरुवाती दौर, यानि 2005 के आसपास, "कड़ी की झड़ी" स्तंभ में भी शामिल की जाती रहीं। [Articles by this author]

Web site: http://chugsdesigns.com

देबाशीष चक्रवर्ती

देबाशीष चक्रवर्ती
पुणे स्थित एक सॉफ्टवेयर सलाहकार देबाशीष चक्रवर्ती हिन्दी के शुरुवाती चिट्ठाकारों में से एक हैं। वे इंटरनेट पर Geocities के दिनों से सक्रिय रहे हैं, उन्होंने अक्टूबर 2002 में अपना अंग्रेज़ी ब्लॉग नल प्वाइंटर और नवंबर 2003 में हिन्दी चिट्ठा नुक्ताचीनी आरंभ किया। देबाशीष DMOZ पर संपादक रहे हैं। उन्होंने हिन्दी व भारतीय भाषाओं के ब्लॉग पर एक जालस्थल चिट्ठा विश्व भी शुरु किया था, यह हिन्दी व भाषाई ब्लॉग्स का सबसे पहला एग्रीगेटर था। उन्होंने वर्डप्रेस, इंडिक जूमला तथा आई जूमला जैसे अनेक अनुप्रयोगों के हिन्दीकरण में योगदान दिया है। 2005 में उन्होंने इस पत्रिका (जिसे पूर्व में निरंतर के नाम से जाना जाता था) का प्रकाशन अन्य साथी चिट्ठाकारों के साथ आरंभ किया। देबाशीष ने इंडीब्लॉगीज नामक वार्षिक ब्लॉग पुरुस्कारों की स्थापना भी की है। उन्हें बुनो कहानी तथा अनुगूंज जैसे सामुदायिक प्रयासों को शुरु करने का भी श्रेय जाता है। संप्रति ब्लॉग लेखन के अलावा हिन्दी पॉडकास्ट पॉडभारती पर सक्रीय हैं और यदाकदा अंग्रेज़ी व हिन्दी विकिपीडिया पर योगदान देते रहते हैं। [Articles by this author]

Web site: http://www.debashish.com

यूरिग स्कैनद्रेत

यूरिग स्कैनद्रेत
यूरिग स्कैनद्रेत क्वीन मार्गरेट विश्वविद्यालय, एडिनबर्ग, स्कॉटलैंड, यूके में समाजशास्त्र के व्याख्याता हैं। [Articles by this author]

Web site: http://tinyurl.com/EurigScandrett

इवगेनी मोरोज़ोव

इवगेनी मोरोज़ोव
इवगेनी मोरोज़ोव न्यूयॉर्क में द ओपन सोसाइटी इन्सटिट्यूट से संबद्ध हैं, और इस के सूचना कार्यक्रम बोर्ड के सदस्य। द इकॉनामिस्ट, इंटरनेशनल हेराल्ड ट्रिब्यून जैसे प्रकाशनों के लिये लिखते रहे हैं। [Articles by this author]

Web site: http://www.evgenymorozov.com

केविन गोवेनदर

केविन गोवेनदर
केविन गोवेनदर SALT कोलैटरल बेनिफिट्स कार्यक्रम के प्रबंधक एवं अंतर्राष्ट्रीय खगोल विज्ञान वर्ष 2009 के दक्षिण अफ़्रीकी अध्याय के अध्यक्ष हैं। [Articles by this author]

Web site: http://www.saao.ac.za

परोमिता देब अरंग

परोमिता देब अरंग
मुंबई निवासी परोमिता देब अरंग मूलतः मेघालय की रहने वाली हैं। वे एक दशक से देश के विभिन्न स्थानों की यात्रा कर चुकी हैं। फोटोग्राफी में उन्होंने कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं लिया है और यह उनका छ माह पुराना शौक ही है पर यह शौक परवान चढ़ रहा है। वे फ्लिकर पर मुंबई वीकेंड फोटोग्राफी समूह का परिचालन करती हैं और सप्ताहांत में मुंबई व आसपास के इलाकों में काफी छायाकारी करती हैं। उनका कैमरा canon 18-55mm kit lens और canon 75-300 zoom lens युक्त Canon 1000D है। परोमिता HR में IIMK से स्नात्कोत्तर हैं व संप्रति एक निजी संस्था के साथ कार्यरत हैं। [Articles by this author]

Web site: http://www.flickr.com/photos/rootless_wanderer

Total 18 authors Next page